5/6 video.How to do imports in easy way, interview of mr Ashok Gupta Kinkar by Mr Jain in Hindi.

5/6 video.How to do imports in easy way, interview of mr Ashok Gupta Kinkar by Mr Jain in Hindi.

Transcription : first in Hindi then in English.

These  video series are primarily for learning imports exports and business right from scratch to profit earning in real business within very short time.

Mr Jain : क्या हमें इंपोर्ट करना चाहिए एक्सपोर्ट करना चाहिए यह बताएं ?

Mr Kinkar :  आप देखिए अगर हमारे पास बाहर ग्राहक रेडी है देखिए यह विदेश है यह इंडिया है अगर बाहर ग्राहक है तो हम भारत से सामान भेज सकते हैं एक्सपोर्ट कर सकते हैं और अगर कोई हमारे पास समान ऐसा है जो इंडिया में बेचना है तो वह हम Import करेंगे.  बाहर का ग्राहक ढूंढना एक अलग तरह का काम है जो हम कभी और बताएंगे.  

Mr Jain : तो आज हम बात करेंगे इंपोर्ट के बारे में.  तो आप हमें गाइड करें कि हम इंपोर्ट कैसे कर सकते हैं जब हम Import  की बात करते हैं तो हमारे दिमाग में आता है :  हमें बहुत पैसा चाहिए , विदेश में जाकर डील करनी होगी और हमें पता नहीं हमारा सामान बिकेगा या नहीं.  इन सब चीजों से बचने का कोई तरीका है ?

जवाब :  जैसे ही हम इंपोर्ट का नाम शुरू करते हैं हमें वह आइटम सेलेक्ट करनी चाहिए जिसे हम आसानी से Sell kar सके.  वह हमें अपने आसपास देखकर सेलेक्ट कर सकते हैं और वह हमारी Workshop  में यह आइटम सेलेक्ट करने में भी हम उनको सहायता देते हैं.  हम चार्ज करते हैं लेकिन जो आपके चैनल के थ्रू आएंगे हम उनको स्पेशल Concideration  देंगे.

 किस कंट्री से करें क्या आइटम करें वह जो तरीका है जर्नल तरीका एक ही है. SOP  स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रैक्टिस एक जैसी होती है.  इंपोर्ट mein  ज्यादा कागजी जमा खर्च की जरूरत नहीं है केवल एक रजिस्ट्रेशन कराना है जिसका नाम है आई सी कोड नंबर I & E code number,  देखिए इस तरह से होता है एक ही पेज होता है.

 ऑफिस ऑफ जोनल डायरेक्टर जनरल आफ फॉरेन ट्रेड मिनिस्ट्री ऑफ एंड इंडस्ट्री (Office of Zonal Director General of Foreign Trade , Ministry of Trade and Industry )यीशु करती है.  यह बहुत आसानी से ऑनलाइन मिल जाता है कुछ नहीं एक बैंक अकाउंट चाहिए और कंपनी का नाम चाहिए इसके बाद आप एलिजिबल हो जाते हैं. इंपोर्ट के लिए.

Mr Jain :  आप डिटेल में जा रहे हम तो यह जानना चाहते हैं की बहुत सारे viewers  जो बहुत कम पैसा लगाकर काम स्टार्ट करना चाहते हैं पैसा नहीं लगाना चाहते या स्मॉल स्केल बिजनेस करना चाहते हैं तो क्या यह पॉसिबल है कि कम पैसा लगाकर यह काम हो सकता है ?

Reply :  जरूर हो सकता है.   लोकल बिजनेस हो या फॉरेन बिजनेस हो दो तरह की चीजों की आवश्यकता पड़ती है नॉलेज और रिसोर्सेज.  आपके रिश्तेदार दोस्त 10 लोग मिलकर काम कर सकते हैं मान Lijiye  10 लोग हैं 1,00,00,000 रुपए की जरूरत है तो 10 10 लाख डालकर काम कर सकते हैं.  लेकिन आपको नॉलेज होनी चाहिए कि कौन सी चीज कहां से लाई जाए और कहां बेची जाए और उसमें क्या सावधानियां लेनी है.

Mr jain :  तो बताइए आप जैसे इस बिजनेस को काफी टाइम से करते आ रहे हैं और हमारे जो दर्शक है वह इस बिजनेस को करना चाहे और हमारे चैनल के माध्यम से आप से कांटेक्ट करना चाहे तो क्या आप उन्हें सलाह देंगे  ?

जवाब :  शुभम जी आप इतना बड़ा काम कर रहे हैं तो हम भी आपको पूरा सहयोग देंगे . जो लोग आपके माध्यम से हमारे पास आएंगे हम उन्हें पूरी बात बताएंगे कहां से कौन सा प्रोडक्ट करना है और क्या सावधानियां लेनी है इसके लिए बड़ा सिंपल है प्रोडक्ट्स selection  के बाद काम कैसे होता है क्योंकि जब विदेशों से हमें Maal  लेना है तो बिना पैसा दिए माल नहीं मिलेगा और नया आदमी है तो उसको पैसा कैसे देंगे ?  इसके लिए हमारे जो फॉरेन ऑफिस है वह हेल्प करते हैं.

 वह सेलेक्ट करने में हेल्प करते हैं कि वहां की पार्टी कैसी है एक बार आपने वहां जाकर अपने आप को जाना पड़े कैसे jaana hai यह सब हम बताते हैं . मान लिया चाइना से कोई चीज लेनी है या दुबई से लेनी है तो यह अलग-अलग लोग हैं उनसे बात करनी है जिस से भी बातचीत हो गई .

 पहले यह माल आता है सीपोर्ट पर या कंटेनर से रखे जाते हैं यहां से यह माल लोड होता है सिर्फ में और से बात है कांडला मुद्रा मुंबई कहीं भी बहुत सारे Port  है करीब 42 Port  है इंडिया में कहीं भी आ सकता है और वहां से दिल्ली में बैठे हैं और मान lijiye वह प्रोडक्ट लुधियाना में बिकता है जहां फैक्ट्री hein.  फॉर एग्जांपल उसका मार्केट लुधियाना में है .  पहले आएगा मुंबई mein आएगा और shipping company  उसको वहां पहुंचा देगी . वहां कस्टम हाउस ऑफिस से छूटेगा यह जहां आप रहते हैं वही माल कस्टम से छूट जाएगा और उसे भेज सकते हैं मोटा मोटी यही एक तरीका होता है इंपोर्ट बिजनेस का चाहे आइटम कोई सी भी हो. 

Mr Jain :  जैसा आपने बताया आप हमारे भी उसको हेल्प करेंगे गाइड करेंगे समझेंगे गुप्ता जी एक और चीज जानना चाहूंगा आप इस तरह से जो बिजनेस में हेल्प करते हैं तो लोगों से चार्ज भी करते हैं तो क्या हमारे  viewers ko  भी यह चार्जेस pay करने होंगे ?

 गुप्ता जी :  हम उन्हें काफी डिस्काउंट देंगे और कोई  aap se recommend  होकर आता है तो हम उससे कम से कम चार्ज लेंगे.

Mr. Jain :  तो गुप्ता जी आपने बहुत समय दिया आपका बहुत धन्यवाद और आपने बताया आप दिल्ली के ही है तो जो आपके नंबर है वह यहां देखे गए

Gupta ji : आपको पता रहता है मैं कौन से देश में हूं आपके द्वारा लोग हमें संपर्क कर सकते हैं मिस्टर जैन हम नंबर अपना दे देते हैं जो भी लोग मिलना चाहे आप से मिल सकते हैं  उनका स्वागत है वह कभी भी मिल सकते हैं

Mr jain :  बहुत-बहुत धन्यवाद आपसे मिलकर बहुत अच्छा लगा मुझे

 गुप्ता  : आपने मुझे मौका दिया आपका बहुत-बहुत धन्यवाद

Mr jain :  यह आपका बड़प्पन है आपने इतना समय दिया धन्यवाद

 Mr Jain :  should we do import or  export please tell us ?

Mr kinkar :  please see if you have the customer ready in foreign country then we can export from India but if something is required in India then we will import.  searching for a customer in other country is a different kind of work which we will tell you some other time.

Mr  Jain :  today we will talk about import please guide us how we can import when we talk of import then it comes to our mind we need a lot of money we have to go other countries and don’t we don’t know whether our goods will be sold or not is there a way to to save us from that .

Reply :  first we should select that item which we can sell easily that we can select by seeing  near us and those who come to our workshop we help them in selecting that item we charge but  those who come through your channel,  we give them special consideration.   we also tell  what item from which country. But there are standard operating practice SOP which we tell in our workshops. 

 import does not require a lot of paperwork.   just a registration is enough.  Just a  paper name is I & E code number and  this is issued by the office of zonal director of  foreign trade,  Ministry of trade and industry.   this is very easily possible online.   just we need a bank account in company name then you become eligible for import

Mr Jain :  we have a lot of our viewers  who want to do business with very less money  or they don’t want to invest they want to do small scale business is it possible that they can do with less money

 Mr Gupta :  yes sure that is possible.  whether it’s local business of foreign business we need two things knowledge and resources. For example,   if you have to do a business of 1 crore and you have only 10 lacs then 10 friends and relatives can unite together to make it 1 crore and can easily do it.  but you should have knowledge of  what thing to bring from where and where to sell it,  and what are the precautions.

 Mr Jain :  then tell us because you are doing this business from long time our viewers  want to do this business,  what  suggestion you give to them.

 Reply :  Mr Shubham,  you are doing such a big job we will also support you.  whosoever comes from your medium we will tell them whole thing what product,  what precaution we have to take.  this is very simple because when we have to buy goods from abroad then without paying  you don’t get the goods but if you are new then how you will give money to some other person. for this our offices in China, usa, and Dubai etc will help

Mr jain : thanks mr gupta , we hope you have nice time in India

++++++++++++++++++

+++

Introduction of Ashok Gupta Kinkar :

 Mr Ashok Gupta kinkar is an Businessman, now giving talk shows on the art of imports and exports, because he has already lived and worked  5 years in Germany ( jewellery handicraft garments agarbatti, brass  flowers pots, shoes)  and  5 years in Dubai (gold and diamond jewellery spices and other items) 11 years in USA with office in Manhattan dealing  ( gold, silver and diamond jewellery , distribution of liquor wine,  bear and real estate,  among many other businesses.  

Now he is giving workshops and training to students,  entrepreneurs,  new and old Businessmen who wish to grow up to public limited level he is also guiding in IPO (Initial Public Offer) so that they can bring out  their own Public Issue.

How these workshops are different ?

The difference in his coaching/ training and other institutes is, that Mr kinkar is an experience Businessman himself with 40 year in actual imports and exports  business with his associate offices  in USA,  China,  Dubai,  and India.

More information you can get by Google his name –“ Ashok Gupta kinkar “ – and  going to his website importexportsbusiness dot kom. Thanks & Regards , Import Export Academy Delhi Phone : 9810890743

+++++

These  video series are primarily for learning imports exports and business right from scratch to profit earning in real business within very short time.

 Aim :  to give an insider view about imports exports and business by the video clips here and you can go to our website “ importexportsbusiness” dotkom .

Training for job and business :

 import export Academy Delhi,  holds 1, 3, 8 session workshops  for training.   By attending these workshops one can get

–  a decent executive job in any import export company because we do not teach clerical things here,  but train how to organize a business from scratch thereby giving the company profits in lacs and crores.

– Useful  for entrepreneurs :  they can start import and export right after attending  our workshops.   If you are new in business then you can be well ahead of old timer importers and exporters because of our latest items and strategies.

 If you are already in imports exports business then you can add such items where you can increase the profit multifold.

 – If you want to bring out an IPO( initial public offer) then we tell you how it is possible,  when your trusted chartered accountant says it is not possible. 

–  If you want to open a office abroad we give you direct help through our associate offices in USA China Dubai etc.

–  If you want to settle abroad with family with a Green Card then we tell you all the ways and means and rules in easy language and arrange you a legal support to make it easy and fast.

–  Apart from above we help you in many social cause NGOs and Community help businesses.

–  For this you can come to our website” importexportsbusiness”  dotkom or call directly our mentor

Mr Ashok Gupta kinkar

 import export business Academy Delhi India

phone 9810 890 743

thanks and regard

3 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.